Friday, 15th November, 2019
Amazon
HEADAING
X

Breaking News

Nov-09-19 रामजन्मभूमि न्यास को विवादित जमीन, मुस्लिम पक्ष को मिले अलग जगह

Divay Bharat / राष्ट्रीय /03-Aug-2019/Viewed : 125

कश्मीर को खाली करने का आदेश , सभी पर्यटकों को लौटने की सुचना जारी

रामजन्मभूमि न्यास को विवादित जमीन, मुस्लिम पक्ष को मिले अलग जगह

दिव्य भारत मीडिया, नई दिल्ली डेस्क :  केंद्र सरकार जम्मू-कश्मीर में पिछले कुछ दिनों से सुरक्षा बलों की संख्या बढ़ा रही है। इसके बाद कल सरकार के कश्मीर खाली करने के आदेश ने पूरे सूबे में हलचल मचा दिया। अमरनाथ यात्रा के मार्ग में घातक हथियारों की बरामदगी के बाद सेना और प्रशासन दोनों सतर्क हो गए हैं। बताया जा रहा है कि सरकार को अमरनाथ यात्रियों पर हमले का इनपुट मिला है। अभी यहां लगभग एक लाख पर्यटक व श्रद्धालु मौजूद हैं। इन्हें कहा गया है कि वे कश्मीर से चले जाएं। इसके लिए एडवायजरी भी जारी कर दी गई है। इसके बाद पर्यटक कश्मीर से निकलने शुरू हो गए हैं और रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट व बस अड्डों पर भीड़ देखी जा रही है।
हमले की इनपुट मिलने के बाद सरकार पर्यटकों के प्रति चिंतित हो गई है। सरकार ने तीर्थयात्रियों और पर्यटकों से कश्मीर घाटी में अपने ठहराव और यात्रा की अवधि कम करने को कहा है। इतना ही नहीं, अमरनाथ यात्रियों और पर्यटकों से जितना जल्दी हो सके, उतना जल्दी कश्मीर घाटी से लौटने के लिए जरूरी कदम उठाने को कहा गया है। जम्मू-कश्मीर के प्रिंसिपल सेक्रेटरी (होम) की तरफ से जारी सिक्यॉरिटी एडवाइजरी में श्रद्धालुओं और पर्यटकों से ‘यात्रा की अवधि कम करने’ और ‘जल्द से जल्द लौटने’ को कहा गया है। लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्लन ने कल बताया कि अमरनाथ यात्रा के रूट पर आतंकियों के एक ठिकाने से एक अमेरिकन स्नाइपर राइफल एम-२४ बरामद किया गया है। इसके अलावा पाकिस्तान निर्मित बारूदी सुरंग और अन्य विस्फोटक बरामद हुए हैं। हालांकि जम्मू-कश्मीर भाजपा के अध्यक्ष रविंद्र रैना का कहना है कि अमरनाथ यात्रा तय शेड्यूल के मुताबिक १५ अगस्त तक जारी रहेगी। सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम हैं और डर का कोई माहौल नहीं है।

अमरनाथ श्रद्धालुओं और कश्मीर आनेवाले पर्यटकों को तत्काल कश्मीर खाली करने का सरकारी फरमान जारी किया गया है। इसके साथ ही अमरनाथ यात्रा १५ दिन पहले ही समाप्त कर दी गई हैै। इस फरमान के कारण वैष्णो देवी आनेवाले श्रद्धालुओं में भी अफरातफरी का माहौल बना हुआ है। वहीं सरकार के इस फरमान से इस बात की जारोदार चर्चा हो रही है कि कश्मीर में कुछ बड़ा कारनामा होनेवाला है।
राज्य गृह विभाग के प्रमुख सचिव शालीन काबरा द्वारा जारी निर्देश में सभी अमरनाथ श्रद्धालुओं और कश्मीर आनेवाले पर्यटकों से जल्द से जल्द कश्मीर को छोड़कर जाने के लिए कहा गया है। इसके लिए उन्होंने सुरक्षा कारणों का हवाला दिया है। काबरा द्वारा जारी पत्र में कहा गया है कि सुरक्षा एजेंसियों की पुख्ता सूचनाओं के मुताबिक आतंकी अमरनाथ श्रद्धालुओं तथा कश्मीर आनेवाले पर्यटकों को निशाना बना सकते हैं इसलिए उन्हें निर्देश दिया जाता है कि वे जितनी जल्द हो सके कश्मीर की अपनी यात्रा को समाप्त कर अपने घरों को लौट जाएं। जानकारी के मुताबिक कश्मीर में इस समय तकरीबन एक लाख अमरनाथ श्रद्धालु और पर्यटक हैं, जिनमें इस निर्देश के बाद अफरातफरी का माहौल पैदा होने के साथ ही दहशत भी पैâल गई है। वे किसी तरह से अपने घरों को लौटना चाहते हैं। बता दें कि कुछ दिन पहले ही केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह कश्मीर का दौरा कर चुके हैं। इसके साथ ही यहां सुरक्षा बलों का संख्या भी बढ़ाई जा रही है। ऐसे में लोगों के बीच तमाम तरह की आशंकाएं जताई जा रही है।

HEADAING
Apecial Offer
श्री राम कलेक्शन ड
Puja Special