Friday, 15th November, 2019
Amazon
HEADAING
X

Breaking News

Nov-09-19 रामजन्मभूमि न्यास को विवादित जमीन, मुस्लिम पक्ष को मिले अलग जगह

Divay Bharat / खेल कुद /29-Aug-2019/Viewed : 125

जानिए खेल दिवस के अवसर पर राष्ट्रपति से किनको मिला कौन पुरस्कार

रामजन्मभूमि न्यास को विवादित जमीन, मुस्लिम पक्ष को मिले अलग जगह

दिव्य भारत मीडिया, नई दिल्ली डेस्क : राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने वीरवार को खेल दिवस के मौके पर राष्ट्रपति भवन में खिलाड़ियों को विभिन्न तरह के खेल पुरस्कारों से नवाजा. इस मौके पर हालांकि कुछ खिलाड़ी अपनी उपस्थिति दर्ज नहीं करा पाए, जिन्हें बाद में अवार्ड दिया जाएगा. इस साल भारत सरकार ने देश के सर्वोच्च खेल सम्मन राजीव गांधी खेल रत्न के लिए दिग्गज पहलवान बजरंग पुनिया और महिला पैरा-एथलीट दीपा मलिक को चुना है. बजरंग हालांकि इस सम रूस में ट्रेनिंग कर रहे हैं और इसलिए वह अवार्ड समारोह में नहीं आ पाए.

दीपा मलिक खेल रत्न हासिल करने वाली पहली महिला पैरा-एथलीट बन गई हैं. दीपा ने रियो पैरालम्पिक-2016 में शॉट पुट (गोलाफेंक) में रजत पदक हासिल किया था. इसके अलावा वह एशियाई खेलों में भालाफेंक और शॉटपुट में कांस्य जीत चुकी हैं. दीपा सर्वोच्च खेल सम्मान पाने वाली देश की दूसरी पैरा एथलीट हैं. इससे पहले भाला फेंक एथलीट देवेंद झाझरिया को 2017 में इस सम्मान से नवाजा गया था.

इसके अलावा भारतीय क्रिकेट टीम के हरफनमौला खिलाड़ी रवींद्र जडेजा और महिला क्रिकेट टीम की खिलाड़ी पूनम यादव को अर्जुन अवार्ड के लिए चुना गया है. जडेजा इस समय भारतीय टीम के साथ विंडीज में हैं इसलिए वह पुरस्कार लेने के लिए नहीं आ पाए. 12 सदस्यीय समिति ने 17 अगस्त को राष्ट्रीय राजधानी की बैठक में खिलाड़ियों के नामों की सिफारिश की अलग-अलग पुरस्कारों के लिए की थी. इस समिति में महिला मुक्केबाज मैरी कॉम, पूर्व फुटबाल खिलाड़ी बाइचुंग भूटिया, पूर्व लंबी कूद खिलाड़ी अंजू बॉबी जॉर्ज, भारतीय महिला क्रिकेट टीम की पूर्व कप्तान अंजुम चोपड़ा, टेबल टेनिस कोच कमलेश मेहता, सर्वोच्च अदालत के पूर्व न्यायाधीश (सेवानिवृत) मुकुंदन शर्मा, खेल सचिव राधेश्याम झुलानिया, भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) के महा निदेशक संदीप प्रधान और टारगेट ओलिंपिक पोडियम स्कीम (टॉप्स) के मुख्य कार्यकारी कमांडर राजेश राजगोपालन के नाम भी शामिल हैं. महिला निशानेबाज अंजुम भी समारोह में हिस्सा नहीं ले पाईं. वह रियो डी जनेरियो में आईएसएसएफ के विश्व कप में हिस्सा ले रही हैं 

विमल कुमार (बैडमिंटन), संदीप गुप्ता (टेबल टेनिस), मोहिंदर सिंह ढिल्लों (एथलेटिक्स) को द्रोणाचार्य अवार्ड से नवाजा गया। मेरजबान पटेल (हॉकी), रामबीर सिंह खोखर (कबड्डी), संजय भारद्वाज (क्रिकेट) को द्रोणाचार्य अवार्ड (लाइफटाइम कैटेगरी) से नवाजा गया है.

अर्जुन पुरस्कार मिलने वाली सूची में तजिंदरपाल सिंह तूर (एथलेटिक्स), मोहम्मद अनस याहिया (एथलेटिक्स), एस. भास्करन (बॉडी बिल्डिंग), सोनिया लाठर (बॉक्सिंग), रविन्द्र जडेजा (क्रिकेट), चिंगलियाना सिंह कंगुजम (हॉकी), अजय ठाकुर (कबड्डी), गौरव सिंह गिल (मोटर स्पोर्ट्स), प्रमोद भगत (बैडमिंटन), अंजुम मौदगिल (निशानेबाजी), हरमीत राजुल देसाई (टेबल टेनिस), पूजा ढांडा (कुश्ती), फवद मिर्जा (घुड़सवारी), गुरप्रीत सिंह संधू (फुटबॉल), पूनम यादव (क्रिकेट), स्वप्ना बर्मन (एथलेटिक्स), सुंदर सिंह गुर्जर (पैरा खेल, एथलेटिक्स), भामिदपति साई प्रणीत (बैडमिंटन), सिमरन शेरगिल (पोलो) के नाम हैं. वहीं ध्यानचंद पुरस्कार के लिए मनोज कुमार (कुश्ती) मैनुअल फ्रेड्रिक (हॉकी), अरूप बसाक (टेबल टेनिस), नीतिन कीर्तन (टेनिस), चांग्ते लालरेमसांगा (तीरंदाजी) को चुना गया है।

 न्यायमूर्ति (सेवानिवृत) मुकुंदकम शर्मा की अगुवाई वाली समिति ने विश्व में 65 किग्रा में नंबर एक पूनिया को शुक्रवार को ही खेल रत्न के लिए चुन लिया था. छह बार की विश्व चैंपियन और ओलंपिक कांस्य पदक विजेता एमसी मैरी कॉम ने हितों के टकराव से बचने के लिये बैठक में हिस्सा नहीं लिया था. उनके निजी कोच छोटेलाल यादव द्रोणाचार्य पुरस्कार की दौड़ में शामिल थे.

HEADAING
Apecial Offer
श्री राम कलेक्शन ड
Puja Special